पाकिस्तानी हैंडलर को आतंकियों की चैट, सीमा पार करने से पहले मोबाइल फोन सौंपना | जैश आतंकवादियों के साथ बातचीत कर रहा था और पाकिस्तानी हैंडलर स्थिति से अंतरिक्ष के लिए पूछ रहा था

पाकिस्तानी हैंडलर को आतंकियों की चैट, सीमा पार करने से पहले मोबाइल फोन सौंपना |  जैश आतंकवादियों के साथ बातचीत कर रहा था और पाकिस्तानी हैंडलर स्थिति से अंतरिक्ष के लिए पूछ रहा था
  • हिंदी समाचार
  • राष्ट्रीय
  • पाकिस्तानी हैंडलर्स ने आतंकवादियों से बातचीत की और सीमा पार करने से पहले मोबाइल फोन सौंपा

विज्ञापनों से थक गए? विज्ञापनों के बिना समाचार के लिए डायनेमिक बेसकर एप्लिकेशन इंस्टॉल करें

जम्मूएक घंटा पहलेलेखक: दीपक खजुरिया

  • लिंक कॉपी करें

19 नवंबर को सुरक्षा बलों ने श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर टोल प्लाजा में आतंकवादियों से भरे एक ट्रक को उड़ा दिया। मुठभेड़ के बाद घटनास्थल पर जांच करते अधिकारी

जम्मू-कश्मीर के नगरोटा में गुरुवार को हुए संघर्ष में चार जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादी मारे गए। मारे गए आतंकवादी पाकिस्तान में बैठे हैंडलर्स से बातचीत कर रहे थे। उन्हें वहां से निर्देश दिए गए थे। आतंकवादियों के मोबाइल फोन की जांच से यह बात सामने आई है।

सुरक्षा बलों ने आतंकवादियों के पास से पाकिस्तान में बने MPD-2505 मॉडल के मोबाइल फोन बरामद किए हैं। इसमें पाकिस्तान के सिम कार्ड शामिल हैं। बरामद मोबाइल फोन एंड्रॉयड फोन नहीं हैं। खास बात यह है कि इसमें अहम एप्लीकेशन भी नहीं है। इसमें केवल टेक्स्ट संदेशों के साथ चैट शामिल हैं।

पाकिस्तानी हैंडलर ने आतंकियों से की बातचीत
संदेश में, मारे गए आतंकवादियों में से एक ने अपने हैंडलर से पूछा, “कहां पहुंचना है? क्या सूर्यास्त है? क्या कोई कठिनाई है?”

MPD-2505 मोबाइल फोन का स्क्रीन शॉट पाकिस्तान में बना जिसमें पाकिस्तानी हैंडलर आतंकवादी से उसकी लोकेशन पूछता है।

MPD-2505 मोबाइल फोन का स्क्रीन शॉट पाकिस्तान में बना जिसमें पाकिस्तानी हैंडलर आतंकवादी से उसकी लोकेशन पूछता है।

“2 बजे,” आतंकवादी ने जवाब दिया। ये सभी चैट रोमन भाषाओं में हैं।

आतंकवादी ने पाकिस्तानी हैंडलर के सवाल का बहुत ही कम जवाब दिया।  उन्होंने केवल दोपहर 2 बजे लिखा था।

आतंकवादी ने पाकिस्तानी हैंडलर के सवाल का बहुत ही कम जवाब दिया। उन्होंने केवल दोपहर 2 बजे लिखा था।

आतंकियों की प्लानिंग की जांच जारी है
यह जानकारी जांच एजेंसियों के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। यह सीमा पार करने और वहां से राजमार्ग तक जाने का समय देता है। फिलहाल सभी चार मोबाइल फोन की जांच चल रही है। इसके अलावा, अन्य समाचारों को खोजने का प्रयास किया जा रहा है। यह आतंकवादी योजना के बारे में महत्वपूर्ण सुराग दे सकता है।

सीमा पार करने से पहले दिया गया मोबाइल
खुफिया सूत्रों के मुताबिक, सीमा पार करने से पहले आतंकियों को मोबाइल फोन दिए गए थे। भारत से सीमा के पार, एक गाइड उन्हें जम्मू-दिल्ली राजमार्ग पर ले गया। वहां से वह ट्रक में बैठ गया। जांच एजेंट आतंकवादियों के लिए एक गाइड की तलाश कर रहा है।

टोल प्लाजा पर मिला ट्रक नंबर
गुरुवार सुबह कश्मीर के रास्ते में, सुबह 3:55 बजे सांबा जिले में ठंडी क्यूई टोला प्लाजा के पास आतंकवादियों का एक दल पहुंचा। यहां ट्रक नंबर JK01L1055 पाया गया। यहां से 4:45 बजे लॉरी 35 किमी दूर टोल प्लाजा पहुंची। सुरक्षा बलों ने घटनास्थल पर आतंकवादियों से भरे एक ट्रक में विस्फोट किया।

Siehe auch  सिनालोआ में भारतीय प्रकार के कोरोना वायरस के दो मामले पाए गए

We will be happy to hear your thoughts

Hinterlasse einen Kommentar

Shivpuri news online